नौसिखिया निवेशक के लिए एक गाइड

प्रक्रिया खोलें चालू खाता ऑनलाइन करने के लिए

प्रक्रिया खोलें चालू खाता ऑनलाइन करने के लिए
इसमें से आपको Account Opening वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है । जिसके बाद आपके सामने HDFC BANK में नया खाता खोलने का सारा विकल्प दिख जाएगा ।

open-current-business-bank-account

बिजनेस बैंक अकाउंट [Business Bank Account] क्या है? कैसे खोलें |

Business Bank account open करने से तात्पर्य व्यापार हेतु बैंक खाता खोलने से है हर उद्यमी चाहे वह किसी प्रकार का भी बिज़नेस कर रहा हो को अपने व्यापारिक लेन देन करने के लिए उसे अपने बिज़नेस अर्थात इकाई के नाम से Business bank account या Current Bank Account open करने की आवश्यकता होती ही होती प्रक्रिया खोलें चालू खाता ऑनलाइन करने के लिए है |

किसी भी उद्यमी का बैंक में बिज़नेस के नाम से अकाउंट होने के बहुत सारे फायदे होते हैं इनमे मुख्य फायदा तो यही है की उद्यमी अपने बिज़नेस के नाम से Invoice Generate करके उसी नाम से भुगतान प्राप्त कर सकता है इसके अलावा बिज़नेस के नाम से खाता होने पर यह बाज़ार में ग्राहकों के साथ एक व्यापारिक विश्वसनीयता को बनाये रखने में सहायक होता है |

इसलिए हम अपने इस लेख ‘’बिज़नेस के लिए बैंक खाता खोलने के तरीके’’ के माध्यम से बैंक खाता खोलने की प्रक्रिया और उस प्रक्रिया के दौरान प्रयुक्त होने वाले आवश्यक दस्तावेजों के बारे में जानने की कोशिश करेंगे |

बिजनेस बैंक अकाउंट क्या होता है?:

Current account बैंक के द्वारा खोला जाने वाला एक ऐसा खाता होता है जिसमें एक दिन में लेन देन की कोई सीमा नहीं होती अर्थात अकाउंट होल्डर एक दिन में असीमित मात्रा में लेन देन कर सकता है | इस प्रकार के इन खातों को न तो निवेश करने के लिए खोला जाता है और ना ही किसी बचत के उद्देश्य से बल्कि Current Account को खोलने का एकमात्र कारण व्यापार की सुविधा होता है |

यही कारण है की बैंकों द्वारा इस प्रकार के खातों में जमा हुई राशि पर किसी प्रकार का कोई ब्याज नहीं दिया जाता है बल्कि कुछ परिस्थतियों में बैंक अपने द्वारा उद्यमी को दी जाने वाली सर्विस के लिए Charge कर सकते हैं, कहने का आशय यह है की Current Account अर्थात चालू खाता व्यापार की सुविधा को देखते हुए उद्यमियों द्वारा खोले जाते हैं | इसलिए इन्हें Business Bank Account भी कहा जाता है |

बिजनेस बैंक अकाउंट या चालू खाता कैसे खोलें:

हालांकि बैंक खाता चाहे व्यक्तिगत हो या व्यवसायिक इसको खुलवाने की विधि बेहद आसान होती है | उद्यमी या सामान्य व्यक्ति जिस बैंक में खाता खोलना चाहता हो उसे दस्तावेजों एवं मिनिमम डिपाजिट लेकर समबन्धित बैंक की शाखा में जाना होता है |

लेकिन बिज़नेस इकाई के स्वरूप एवं ढाँचे के आधार पर आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट अलग अलग हो सकती है | इसलिए नीचे हम बिज़नेस इकाई के स्वरूप के आधार पर जानने की कोशिश करेंगे की बैंक में एक व्यापारिक खाता खुलवाने के लिए कौन कौन से दस्तावेज किस किस प्रकार के बिज़नेस इकाई के स्वरूप के लिए आवश्यक हैं |

व्यक्तिगत बैंक खाता खोलने के लिए:

यदि कोई व्यक्ति बैंक खाता खुलवाना चाहता हो तो निम्न दस्तावेजों अर्थात Documents की आवश्यकता हो सकती है | पहचान पत्र के तौर पर स्वीकार्य किये जाने वाले दस्तावेजों की लिस्ट इस प्रकार से है |

Saving Bank Account Opening In Csc Hdfc bank / HDFC BANK के माध्यम से CSC VLE बचत खाता कैसे खोलेगा ।

1. डिजिटल सेवा पोर्टल को लॉगइन करने के बाद ।
2. Vle Bazaar के सर्विस के अंदर आने के बाद

3. अकाउंट ओपनिंग पर क्लिक करना है और फिर एचडीएफसी ओपनिंग फॉर्म को Drop down Menu के द्वारा Select करना है ।

4. इसके बाद आपको ग्राहक का मोबाइल नंबर और Captcha डालना होगा ।

5. ग्राहक के मोबाइल नंबर पर आए OTP को दर्ज करना होगा और skip कर देना होगा ।

6. खाता खोलने के लिए ग्राहक का पैन कार्ड दर्ज करना होगा और फिर proceed के बटन पर क्लिक करना होगा ।

8 thoughts on “How To CSC Vle Open Current & Saving Account Under HDFC Bank CSP, CSC से HDFC बैंक का चालू या बचत खाता VLE कैसे खोलें ।”

Nice Articles keep up and the good work

Very Nice Information.

जरुरी सूचना

दोस्तों, हमारी वेबसाइट (sarkariyojnaa.com)सरकार द्वारा चलाई जाने वाली वेबसाइट नहीं है,ना ही किसी सरकारी मंत्रालय से इसका कुछ लेना देना है | यह ब्लॉग किसी व्यक्ति विशेष द्वारा, जो सरकारी योजनाओं में रुचि रखता है और औरों को भी बताना चाहता है, द्वारा चलाया गया है | हमारी पूरी कोशिश रहती की एकदम सटीक जानकारी अपने पाठकों तक पहुंचे जाए लेकिन लाख कोशिशों के बावजूद भी गलती की सम्भावना को नकारा नहीं जा सकता| इस ब्लॉग के हर आर्टिकल में योजना की आधिकारिक वेबसाइट की जानकारी दी जाती है| हमारा सुझाव है कि हमारा लेख पढ़ने के साथ साथ आप आधिकारिक वेबसाइट से भी जरूर जानकारी लीजिये | अगर किसी लेख में कोई त्रुटि लगती है तो आपसे आग्रह है कि हमें जरूर बताएं प्रक्रिया खोलें चालू खाता ऑनलाइन करने के लिए |

हम अपने ब्लॉग के माध्यम से रजिस्ट्रेशन नहीं करवाते ना ही कभी भी पैसे कि मांग करते हैं | हमारा उद्देश्य है केवल आप तक सही जानकारी पहुँचाना !

Website Related All Information

दोस्तों, हमारी वेबसाइट (sarkariyojnaa.com)सरकार द्वारा चलाई जाने वाली वेबसाइट नहीं है,ना ही किसी सरकारी मंत्रालय से इसका कुछ लेना देना है | यह ब्लॉग किसी व्यक्ति विशेष द्वारा, जो सरकारी योजनाओं में रुचि रखता है और औरों को भी बताना चाहता है, द्वारा चलाया गया है | हमारी पूरी कोशिश रहती की एकदम सटीक जानकारी अपने पाठकों तक पहुंचे जाए लेकिन लाख कोशिशों के बावजूद भी गलती की सम्भावना को नकारा नहीं जा सकता| इस ब्लॉग के हर आर्टिकल में योजना की आधिकारिक वेबसाइट की जानकारी दी जाती है| हमारा सुझाव है कि हमारा लेख पढ़ने के साथ साथ आप आधिकारिक वेबसाइट से भी जरूर जानकारी लीजिये | अगर किसी लेख में कोई त्रुटि लगती है तो आपसे आग्रह है कि हमें जरूर बताएं |

  • Kolkata FF Fatafat Result Today DADA FREE TIPS: List Check?
  • Indane Gas Booking: गैस बुकिंग अब ऐसे करना है बुकिंग, मिलेगा गैस?
  • SBI Share Price Performance, History, And Forecast Live NSE/BSE
  • PM Kisan New Helpline Number – इस टोल फ्री नंबर पर करे शिकायत?
  • PM Kisan Beneficiary Status Check 13th किश्त @pmkisan.gov.in

बिजनेस बैंक अकाउंट [Business Bank Account] क्या है? कैसे खोलें |

Business Bank account open करने से तात्पर्य व्यापार हेतु बैंक खाता खोलने से है हर उद्यमी चाहे वह किसी प्रकार का भी बिज़नेस कर रहा हो को अपने व्यापारिक लेन देन करने के लिए उसे अपने बिज़नेस अर्थात इकाई के नाम से Business bank account या Current Bank Account open करने की आवश्यकता होती ही होती है |

किसी भी उद्यमी का बैंक में बिज़नेस के नाम से अकाउंट होने के बहुत सारे फायदे होते हैं इनमे मुख्य फायदा तो यही है की उद्यमी अपने बिज़नेस के नाम से Invoice Generate करके उसी नाम से भुगतान प्राप्त कर सकता है इसके अलावा बिज़नेस के नाम से खाता होने पर यह बाज़ार में ग्राहकों के साथ एक व्यापारिक विश्वसनीयता को बनाये रखने में सहायक होता है |

इसलिए हम अपने इस लेख ‘’बिज़नेस के लिए बैंक खाता खोलने के तरीके’’ के माध्यम से बैंक खाता खोलने की प्रक्रिया और उस प्रक्रिया के दौरान प्रयुक्त होने वाले आवश्यक दस्तावेजों के बारे में जानने की कोशिश करेंगे |

बिजनेस बैंक अकाउंट क्या होता है?:

Current account बैंक के द्वारा खोला जाने वाला एक ऐसा खाता होता है जिसमें एक दिन में लेन देन की कोई सीमा नहीं होती अर्थात अकाउंट होल्डर एक दिन में असीमित मात्रा में लेन देन कर सकता है | इस प्रकार के इन खातों को न तो निवेश करने के लिए खोला जाता है और ना ही किसी बचत प्रक्रिया खोलें चालू खाता ऑनलाइन करने के लिए के उद्देश्य से बल्कि Current Account को खोलने का एकमात्र कारण व्यापार की सुविधा होता है |

यही कारण है की बैंकों द्वारा इस प्रकार के खातों में जमा हुई राशि पर किसी प्रकार का कोई ब्याज नहीं दिया जाता है बल्कि कुछ परिस्थतियों में बैंक अपने द्वारा उद्यमी को दी जाने वाली सर्विस के लिए Charge कर सकते हैं, कहने का आशय यह है की Current Account अर्थात चालू खाता व्यापार की सुविधा को देखते हुए उद्यमियों द्वारा खोले जाते हैं | इसलिए इन्हें Business Bank Account भी कहा जाता है |

बिजनेस बैंक अकाउंट या चालू खाता कैसे खोलें:

हालांकि बैंक खाता चाहे व्यक्तिगत हो या व्यवसायिक इसको खुलवाने की विधि बेहद आसान होती है | उद्यमी या सामान्य व्यक्ति जिस बैंक में खाता खोलना चाहता हो उसे दस्तावेजों एवं मिनिमम डिपाजिट लेकर समबन्धित बैंक की शाखा में जाना होता है |

लेकिन बिज़नेस इकाई के स्वरूप एवं ढाँचे के आधार पर आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट अलग अलग हो सकती है | इसलिए नीचे हम बिज़नेस इकाई के स्वरूप के आधार पर जानने की कोशिश करेंगे की बैंक में एक व्यापारिक खाता खुलवाने के लिए कौन कौन से दस्तावेज किस किस प्रकार के बिज़नेस इकाई के स्वरूप के लिए आवश्यक हैं |

व्यक्तिगत बैंक खाता खोलने के लिए:

यदि कोई व्यक्ति बैंक खाता खुलवाना चाहता हो तो निम्न दस्तावेजों अर्थात Documents की आवश्यकता हो सकती है | पहचान पत्र के तौर पर स्वीकार्य किये जाने वाले दस्तावेजों की लिस्ट इस प्रकार से है |

एसबीआई करंट अकाउंट फॉर्म कैसे भरे SBI Current Account Hindi

SBI Current Account Form Kaise Bhare

SBI Current Account Form Kaise Bhare

एसबीआई करंट अकाउंट फॉर्म कैसे भरे SBI Current Account Form Kaise Bhare in Hindi: स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया में चालू खाता और बचत खता खोलने की सर्विस प्रदान करता प्रक्रिया खोलें चालू खाता ऑनलाइन करने के लिए है ऐसे में आइये जाने एसबीआई बैंक में करंट यानी चालू खता कैसे खोले

करंट अकाउंट क्या होता है

Current Account Kya Hota Hai in Hindi: करंट अकाउंट जिसे हिंदी में में चालू खाता के नाम से जाना जाता है करंट अकाउंट भी सेविंग अकाउंट की तरह ही अकाउंट होता है लेकिन करंट अकाउंट बिजनस के उद्देश्य से चलाया जाता है जबकि सेविंग खाता बिना बिजनस के लिए होता है

  • सेविंग अकाउंट में कुछ लिमिट होती है मतलब एक दिन में एक सीमा तक ही लेन देन किया जा सकता है
  • जबकि चालू खाता या करंट खाता बिजनस के उद्देश्य से होता है इसलिए इस अकाउंट में लेन देन की कोई सीमा नहीं होती है
  • करंट अकाउंट को खोलने के लिए आपके पास किसी तरह का बिजनस होना महत्वपूर्ण है
  • सेविंग खाताधारक को बैंक खाते में जमा किये गए पैसे पर ब्याज मिलता है जबकि करंट खाताधारक को ब्याज नहीं मिलता है

SBI Current Account Rules in Hindi

  • लेन-देन की संख्या पर प्रतिबंध नहीं होता
  • करंट अकाउंट की जमा राशि पर ब्याज नहीं मिलता
  • मिनिमम औसत बैलेंस रखना अनिवार्य है
  • एसबीआई रेगुलर करंट अकाउंट (SBI Current Account) में मिनिमम बैलेंस पांच हजार रूपए निर्धारित है
  • मिनिमम बैलेंस न रखने पर पेनाल्टी भी चुकानी पड़ती है
  • एटीएम, इंटरनेंट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग सर्विस दिया जाता है
  • एसबीआई करंट अकाउंट में पासबुक नहीं दिया जाता
  • ओवरड्राफ्ट की सुविधा भी दी जाती है
  • एक व्यक्ति के नाम कितने भी करंट अकाउंट खोला जा सकता है

SBI Current Account Documents in Hindi: अगर आप स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया यानी SBI बैंक में करंट अकाउंट (Current Account) खोलना चाहते है ऐसे में करंट अकाउंट खोलने के लिए निम्न डॉक्यूमेंट चाहिए

Current Account Types in SBI

  • रेगुलर करंट अकाउंट
  • गोल्ड करंट अकाउंट
  • डायमंड अकाउंट
  • प्लेटिनम करंट अकाउंट
  • पावर पीओएस करंट अकाउंट
  • सुरभि करंट अकाउंट
  • पावर ज्योति करंट अकाउंट
  • पावर ज्योति करंट अकाउंट

SBI Current Account Opening Online for Proprietorship Firm: स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया यानी SBI Bank में Current Account Form कैसे भरे आइये जाने

शेयर बाजार में निवेश करना चाहते हैं, तो जरूरी है Demat Account होना, जानें कैसे खुलता है, क्या होता है चार्ज

शेयर बाजार में निवेश करना चाहते हैं, तो जरूरी है Demat Account होना, जानें कैसे खुलता है, क्या होता है चार्ज

Demat Account : शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने के लिए जरूरी है डीमैट अकाउंट. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

शेयर बाजार में ट्रेडिंग (Share Market Trading) कर पैसा बहुत से लोग बनाना चाहते हैं लेकिन शेयर्स खरीदने और बेचने के लिए जिस डीमैट अकाउंट की जरूरत होती है, उसके बारे में कम ही जानकारी होती है. डीमैट अकाउंट कैसे काम करता है, इस खाते को खोलने के लिए प्रक्रिया खोलें चालू खाता ऑनलाइन करने के लिए जरूरी कागजात कौन से होते हैं और कितनी फीस डीमैट खाते को खोलने के लिए खर्च करनी पड़ती है. ऐसे बहुत सारे सवालों के जवाब हम आपको इस खबर की मदद से दे रहे हैं क्योंकि शेयर ट्रेडिंग के लिए डीमैट अकाउंट होना जरूरी है, इसके बिना ट्रेडिंग नहीं की जा सकती है.

तो आइए जानते हैं डीमैट खाते से जुड़ी हर जरूरी जानकारी.

जिस तरह से बैंक अकाउंट होता है. इसी तरह से डीमैट अकाउंट भी बैंक खाते की तरह काम करता है. शेयर बाजार को रेगुलेट करने वाली संस्था SEBI के साफ निर्देश हैं कि बिना डीमैट खाते के शेयरों को किसी भी अन्य तरीके से खरीदा और बेचा नहीं जा सकता है.

डीमैट खाते की सबसे अच्छी बात होती है ये जीरो अकाउंट बैलेंस के साथ भी खोला जा सकता है. इसमें मिनिमम बैलेंस रखने की जरूरत नहीं होती है. शेयर बाजार में निवेश के लिए निवेशक के पास बैंक अकाउंट, ट्रेडिंग अकाउंट और डीमैट खाता होने चाहिए क्योंकि डीमैट खाते में आप शेयरों को डिजिटल रूप से अपने पास रख सकते है. तो वहीं ट्रेडिंग अकाउंट से मदद से शेयर, म्युचुअल फंड और गोल्ड में निवेश किया जा सकता है.

कैसे खोलें डीमैट खाता

- शेयरों में ऑनलाइन निवेश करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी डीमैट खाता होता है. आप इसे HDFC सिक्योरिटीज, ICICI डायरेक्ट, Axis डायरेक्ट जैसे किसी भी ब्रोकरेज के पास खुलवा सकते हैं.

- ब्रोकरेज फर्म का फैसला लेने के बाद आप उसकी वेबसाइट पर जाकर डीमैट अकाउंट ओपन करने का फॉर्म सावधानी से भरने के बाद उसकी KYC प्रोसेस को पूरा करें.

- KYC के लिए फोटो आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ के लिए डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ेगी. जब ये प्रोसेस पूरी हो जाएगा तो उसके बाद इन-पर्सन वेरिफिकेशन होगा. संभव है जिस फर्म से आप डीमैट अकाउंट खुलवा रहे हों, वो अपने सर्विस प्रोवाइडर के दफ्तर आपको बुलवाएं.

- इस प्रोसेस को पूरा होने के बाद आप ब्रोकरेज फर्म के साथ टर्म ऑफ एग्रीमेंट साइन करते है. ऐसा करने के बाद आपका डीमैट अकाउंट खुल जाता है.

- फिर आपको डीमैट नंबर और एक क्लाइंट आईडी दी जाएगी.

कौन खोलेगा डीमैट खाता

इंडिया में डीमैट खाता खोलने का काम दो संस्थाएं करती है. जिसमें पहली है NSDL (National Securities Depository Limited) और दूसरी है CDSL (central securities depository limited). 500 से अधिक एजेंट्स इन depositories के लिए काम करते है, जिनको आम भाषा में डीपी भी कहा जाता है. इनका काम डीमैट अकाउंट खोलना होता है.

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी शर्त होती है कि जो व्यक्ति शेयर ट्रेडिंग के लिए डीमैट अकाउंट खुलवा रहा हो उसकी उम्र 18 साल से ज्यादा होनी चाहिए. साथ ही इसके लिए उस व्यक्ति के पास पैन कार्ड, बैंक अकाउंट आइडेंटिटी और एड्रेस प्रूफ होना जरूरी है.

रेटिंग: 4.58
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 241
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *